Tum Jo Aaye song lyrics – Once Upon A Time In Mumbai -2010

Tum Jo Aaye song lyrics | Rahat Fateh Ali Khan, Tulsi Kumar

Tum Jo Aaye – hindi track lyrics from Bollywood movie Once Upon A Time In Mumbai. Release in year 2010. “Tum Jo Aaye” song is sung by Rahat Fateh Ali Khan and Tulsi Kumar. The music composed by Pritam. lyrics penned by Irshaad Kamil. Movie Once Upon A Time In Mumbai is directed by Milan Luthria. The film is starring Ajay Devgn, Emraan Hashmi, Kangana Ranaut, Prachi Desai, Randeep Hooda.

Tum Jo Aaye song lyrics - Once Upon A Time In Mumbai - 2010
Tum Jo Aaye song lyrics - Once Upon A Time In Mumbai - 2010

:: Song Credits ::
Singers : Rahat Fateh Ali Khan, Tulsi Kumar
Music : Pritam
Lyrics : Irshaad Kamil
Movie : Once Upon A Time In Mumbaai
Label : T-Series
Released : 2010

Tum Jo Aaye Song Lyrics

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

– तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई
इश्क मज़हब इश्क मेरी ज़ात बान गई

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

– हो तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई
सपने तेरी चाहतों के…
सपने तेरी चाहतों के,
देखती हूँ अब कई,
दिन हैं सोना और चांदी रात बान गई

– हो तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई…

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

चाहतों का मज़ा फासलों में नहीं
आ छुपा लूं तुम्हें हौसलों में कहीं
सब से ऊपर लिखा है तेरे नाम को
ख्वाइशों से जुड़े सिलसिलों में कहीं

– ख्वाइशें मिलने की तुमसे…
ख्वाइशें मिलने की तुमसे
रोज़ होती है नयी
मेरे दिल की
जीत मेरी
बात बान गई

– हो तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई…

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

ज़िन्दगी बेवफा है यह माना मगर
छोड़ कर राह में जाओगे तुम अगर
छीन लाऊंगा मैं आसमा से तुम्हें
सूना होगा ना यह दो दिलों का नगर

– रौनके हैं दिल के दर पे
रौनके हैं दिल के दर पे
धड़कने हैं सुरमई
मेरी किस्मत
भी तुम्हारी
साथ बान गई

– हो तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई
इश्क मज़हब इश्क मेरी ज़ात बान गई…

– सपने तेरी चाहतों के…
सपने तेरी चाहतों के,
देखती हूँ अब कई,
दिन हैं सोना और चांदी रात बान गई

– हो तुम जो आये ज़िन्दगी में बात बान गई…

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
रब ने मिलाया तुम्हें,
होठों पे सजाया तुम्हें,
नगमें सजाया तुम्हें

पाया मैंने पाया तुम्हें,
सब से छुपाया तुम्हें,
सपना बनाया तुम्हें,
नींदों में बुलाया तुम्हें

बुलाया तुम्हें…

Leave a Reply